हैंडवॉश और टूथपेस्ट बांट रहे हैं कैंसर, नए रिसर्च में हुआ खुलासा

हैंडवॉश और टूथपेस्ट बांट रहे हैं कैंसर, नए रिसर्च में हुआ खुलासा

हैंड वॉश के हाथ धोना और अच्छी कंपनी का  टूथपेस्ट इस्तेमाल करना हमारी रोज़मर्रा की आदतों में शुमार हो चुका है लेकिन ये अच्छी आदत जानलेवा है। इस बात का खुलासा अमेरिका से हुआ है। रिसर्च में यह बात सामने आई है कि हैंडवॉश और टूथपेस्ट में पाए जाने वाले जीवाणुरोधी संघटक ट्राइक्लोजन से गट बैक्टीरिया (अंतड़ियों में पाए जाने वाले सूक्ष्मजीव) बदल सकते हैं जिनसे मलाशय के कैंसर का खतरा बढ़ सकता है। 


‘ साइंस ट्रांसलेशनल मेडिसिन ’ पत्रिका में प्रकाशित अध्ययन में बताया गया है कि चूहों पर किए गए प्रयोग में उनमें ट्राइक्लोजन से मलाशय में जलन हुई और उससे जुड़े कैंसर की रफ्तार बढ़ गयी। अमेरिका के यूनिवर्सिटी ऑफ मेसाचुसेट्स अम्हर्स्ट के गुओदांग झांग के मुताबिक ‘इन नतीजों से पहली बार पता चला कि ट्राइक्लोजन से हमारी अंतड़ियों के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल असर पड़ सकता है। 


शोधकर्ताओं के मुताबिक जीवाणुरोधी संघटक के रूप में ट्राइक्लोजन का व्यापक इस्तेमाल हो रहा है और यह 2,000 से ज्यादा उपभोक्ता उत्पादों में पाया जाता है।