भारत में एडवेंचर स्पोर्ट्स के लिए गाइडलाइंस तैयार, सुरक्षा और गुणवत्ता पर फोकस

भारत में एडवेंचर स्पोर्ट्स के लिए गाइडलाइंस तैयार, सुरक्षा और गुणवत्ता पर फोकस

भारत में एडवेंचर स्पोर्ट्स के लिए सरकार पहला दिशानिर्देश जारी कर रही है। 31 मई 2018 को ये गाइडलाइन्स केन्द्रीय पर्यटन राज्य मंत्री के. जे. अल्फोंस द्वारा जारी होंगी। एडवेंचर स्पोर्ट्स के संबंध में सुरक्षा और गुणवत्ता पर आधारित इन दिशानिर्दशों को एडवेंचर टूर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इण्डिया (एटीओएआई) के सहयोग से तैयार किया गया है।


एडवेंचर स्पोर्ट्स  को सुरक्षित बनाने के प्रयास के तहत इन दिशानिर्देशों में न्यूनतम मानकों का जिक्र किया गया है। पिछले कुछ वर्षों के दौरान साहसिक पर्यटन में तेजी से बढ़ोत्तरी हुई है और इसने भारत के आर्थिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इस पहल का उद्देश्य है कि टूर संचालक साहसिक पर्यटन को समझे और सुरक्षा दिशा निर्देशों को बेहतर तरीके से लागू करें। इन दिशा निर्देशों में भूमि, हवा और जल आधारित गतिविधियों को शामिल किया गया है। इसके अंतगर्त पर्वतारोहन, ट्रेकिंग, बंजी जम्पिंग, पारा ग्लाइडिंग, कायकिंग, स्कूबा डाईविंग, स्नॉर्कलिंग, रिवर राफ़्टिंग तथा कई अन्य खेल शामिल हैं।